अंगूरों की पाउडर फफूँद

Class: कवक
Common Name: अंगूरों की पाउडर फफूँद
Scientific Name: Erysiphe necator
Potential Host:

Grapevines: table or wine grapes

Who Am I?

Powdery mildew is a multi-host fungal disease with worldwide dispersion. It usually appears on the surfaces of leaves as white or grayish spots with a powdery like texture; hence the name.

Generally, the disease is host-specific, which means that certain pathogens can only infect plants from the same genus or family. In our case, powdery mildew of grapevines can only infect grapes.

‏‏Powdery mildew is favored by warm climate, moderate to high humidity, low light conditions, and does not require the presence of free water.

Powdery mildew can cause considerable loss due to nutrient removal, reduced photosynthesis, increased respiration and transpiration, and impaired growth.

Control Measures

समय-निर्धारण : आरंभिक अवस्थाओं में संक्रमण से बचना अधिक सरल और किफ़ायती होता है खेत की नियमित रूप से देख-रेख करें और उपरोक्त चिन्हों को खोजें।

स्वच्छता : खरपतवारों, पौधे के अवशेषों, क्षतिग्रस्त भागों, अवांछित पौधों की वृद्धि, और आस-पास के खेती न किये गये क्षेत्रो और असुरक्षित पोधों को हटा कर आस-पास के क्षेत्र साफ रखें।

प्रभावशाली नियंत्रण में उच्च दाब युक्त अधिक मात्रा में पानी से पूरी तरह पूरे क्षेत्र में छिड़काव की आवश्यकता होती है। छिड़काव संप्रयोग स्थिर अथवा डाइनैमिक कार्यक्रम की रचना एक आम रणनीति है।

विश्व के एक अथवा अधिक भागों में प्रयोग किये जाने वाले उत्पादों में निम्न सामग्रियाँ हो सकती हैं :

अधिक फसल उत्पादन मिट्टी में पोटैशियम की मात्रा में शीघ्र कमी आती है। आम तौर पर, रोपण के समय पोटैशियम उर्वरक एप्लाई किये जाते हैं। यदि रेतीली मिट्टी पर कार्य करते समय अथवा जब मिट्टी में पोटैशियम-सुधार खनिजों की अत्यधिक मात्रा होती है, तो पोटैशियम उर्वरकों के कई प्रकार के प्रयोगो की आवश्यकता होती है। पोटैशियम क्लोराइड (KCl) अथवा पोटाश म्यूरिएट (MOP) अत्यधिक प्रयोग होने वाले पोटैशियम उर्वरक हैं। इनकी उच्च जल घुलनशीलता की विशेषताओं के कारण पोटैशियम नाइट्रेट (KNO3) को पत्ते पर छिड़काव अथवा फर्टिगेशन के लिए प्रयोग करने के लिए जाना जाता है।

*32 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान वाले दिनों में सल्फर लगाने से पत्तियों और फलों को क्षति हो सकती है। तेल लगाने के दो सप्ताह के भीतर इसे न लगायें।

सिलसिलेवार उपचारों में उन्हीं सक्रिय सामग्रियों पर आधारित उत्पादों का प्रयोग न करें। इससे किसी उपयोग की गई विशिष्ट सामग्री के प्रति प्रतिरोध उत्पन्न हो सकता है।

टी-ट्री तेल-आधारित उत्पाद, पोटैशियम हाइड्रोजन कार्बोनेट+तांबा सल्फेट, और सल्फर (धूल, गीला करने योग्य, बहाने योग्य अथवा माइक्रोनाइज़्ड)

बसिलस पुमिलिस और बसिल्स सबटाइलिस.

*Names marked in red are considered to be highly poisonous to beneficial insects.

*Names marked in green are considered to be organic and IPM (integrated pest management) compatible.

Caution and careful notice should be taken when using any plant protection products (insecticides, fungicides, and herbicides). It is the grower’s sole responsibility to keep track of the legal uses and permissions with respect to the laws in their country and destination markets. Always read the instructions written on labels, and in a case of contradiction, work in accordance to the product label. Keep in mind that information written on the label usually applies to local markets. Pest control products intended for organic farming are generally considered to be less effective in comparison to conventional products. When dealing with organic, biologic, and to some extent a small number of conventional chemical products, a complete eradication of a pest or disease will often require several iterations of a specific treatment or combination of treatments.

Image Gallery

blank
blank
blank